अनंतपुर. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा प्रहार करते हुए कहा कि वह सरकार को किसानों की एक इंच जमीन नहीं लेने देंगे. किसानों और महिला स्वयं सहायता समूहों के सामने आने वाली समस्याओं को उठाने के लिए कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज शुक्रवार को अपनी 10 किलोमीटर लंबी ‘पदयात्रा’ पर हैं और इसकी शुरुआत जिले के एक गांव से की.

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में किसानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘भारत के पीएम को लगता है कि वह किसानों की जमीन उनसे हथिया सकते हैं. पीएम को किसानों की जमीन इतनी आसानी से नहीं लेने दूंगा.’ पंजाब, महाराष्ट्र, तेलंगाना और राजस्थान जैसे राज्यों में ऐसे ही दौरों और पदयात्राओं के जरिए किसानों तक पहुंचने वाले राहुल ने यहां अपनी पदयात्रा की शुरुआत ओबलादेवरा चेरूवू गांव से मामिलाकुंतापल्ली तक की तीन किलोमीटर तक की दूरी के लिए की. वहां वह किसानों, बुनकरों और छात्रों से बातचीत करेंगे.

राहुल ने अपनी पदयात्रा की शुरूआत एक ऐसे गांव से की, जहां इंदिरा गांधी ने वर्ष 1979 में एक बैठक को संबोधित किया था. अपनी यात्रा के दौरान राहुल जिले के तीन गांवों में किसानों, मनरेगा कर्मियों और महिला स्वयं सहायता समूहों के साथ बातचीत करेंगे. वह कथित तौर पर आत्महत्या कर चुके किसान हरिनाथ रेड्डी के परिवार से भी मिलेंगे.

आंध्र प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष एन रघुवीर रेड्डी ने गुरुवार को कहा था, ‘वह 10 किलोमीटर तक चलेंगे. वास्तव में (राहुल की दादी) इंदिरा गांधी ने वर्ष 1979 में गांव में एक बैठक को संबोधित किया था. इस दौरान छात्रों, किसानों और महिला स्वयं सहायता समूह के साथ तीन से चार संवाद होंगे.’ राहुल की पदयात्रा के दूसरे चरण के तहत मामिलाकुंतापल्ली से देबुरावरिपल्ली (5 किलोमीटर) तक की यात्रा की जाएगी. इसके बाद वह महिला स्वयं सहायता समूहों के साथ बातचीत करेंगे और देबुरावरिपल्ली के मकानों का दौरा करेंगे.

एजेंसी