नई दिल्ली. पूर्व IPL  कमिश्नर ललित मोदी हर रोज़ नए खुलासे करना जारी रखे हुए हैं. इस बार मोदी ने एक साथ बीजेपी और कांग्रेस दोनों को लपेटे में लिया है. ललित मोदी ने बीजेपी के युवा सांसद वरुण गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. ललित मोदी ने ट्विटर पर एक के बाद एक ट्वीट करके लिखा है कि वरुण गांधी कुछ साल पहले उनसे मिले थे और कहा था कि वो सोनिया गांधी से सब ठीक करा दें.

1/2 Please clarify @varungandhi80 did u or did u not come to my house in london. Whilst staying at the Ritz hotel in lon a few years ago –

— Lalit Kumar Modi (@LalitKModi) June 30, 2015

सोनिया गांधी ने मांगे 60 मिलियन डॉलर 
ललित मोदी के मुताबिक वरुण मांधी ने कहा था कि उनकी आंटी यानी सोनिया गांधी 60 मिलियन डॉलर लेंगी. ललित मोदी के दावे को वरुण गांधी ने झुठला दिया है. ललित मोदी ने ट्वीट करके दावा किया कि वरुण गांधी उनसे उनके लंदन के घर पर मिले थे. ललित मोदी ने ट्वीट किया कि अब वरुण गांधी इस मुलाकात पर अपनी मुहर लगाएं.  ललित मोदी ने यह भी कहा कि यह तय है कि अब वरुण गांधी इन बातों से इनकार करेंगे.

2/2 the auntie he refers to is #soniagandhi. The sister is #soniagandhi sister – just for clarity. pic.twitter.com/4FlUrb5xA4

— Lalit Kumar Modi (@LalitKModi) June 30, 2015

यह पहली बार नहीं है जब ललित मोदी ने अपने निशाने पर गांधी परिवार को लिया है. बीते हफ्ते भी ललित मोदी ने ट्ववीट करके दावा किया था कि उन्होंने सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी और उनके पति रॉबर्ट वाड्रा से लंदन में अलग अलग मुलाकात की थी. हालांकि, बाद में प्रियंका के दफ्तर ने ललित मोदी से किसी मुलाकात से इनकार किया.
 

बीजेपी का रुख
दिलचस्प बात ये है कि ललित मोदी के नए दावे जिसमें सोनिया गांधी का भी नाम है, बीजेपी को भी यकीन नहीं हो रहा है. बीजेपी के नेता रामेश्वर चौरसिया ने एबीपी न्यूज़ से कहा कि ललित मोदी के दावे में दम नहीं है. चौरसिया का कहना है कि दुनिया जानती है कि वरुण गांधी और सोनिया गांधी में रिश्ते अच्छे नहीं है ऐसे में ललित मोदी के ऐसे दावे का कोई मतलब नहीं है. इसपर यकीन नहीं किया जा सकता. दरअसल जब से सुषमा स्वराज के जरिए ललित मोदी की मदद करने का मामला सामने आया है, रोज़, रोज़ इस मामले में नए खुलासे हो रहे हैं. खुद ललित मोदी ऐसे दावे कर रहे हैं कि जैसे सभी पार्टी के बड़े नेता उनके खास रहे हैं.

 

एजेंसी इनपुट भी