नई दिल्ली. आईपीएल के पूर्व प्रमुख और फेमा उल्लंघन के आरोपी ललित मोदी ने एक इंटरव्यू में पिछली यूपीए सरकार के मंत्रियों को भी लपेट लिया. कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल का नाम खुद ललित मोदी ने लिया है. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस नेता शशि थरूर ने मंत्री पद इसलिए गंवाया क्योंकि उन्होंने झूठ बोला था कि उनका कोच्चि टीम से कोई सरोकार नहीं है.

राजीव शुक्ला ने ललित मोदी के बयान पर ट्वीट किया कि वह पिछले तीन सालों से उनसे नहीं मिले हैं, जबकि पवार ने कहा कि उन्होंने पूर्व आईपीएल प्रमुख को यह समझाने का प्रयास किया कि वह भारत लौट आएं और जांच का सामना करें. प्रफुल्ल पटेल की ओर से अब तक इस बारे में कोई सफाई सामने नहीं आई है.  एक सवाल के जवाब में ललित मोदी ने कहा कि वह सुरक्षा कारणों से भारत की यात्रा नहीं कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि ब्रिटेन में प्रवास की मंजूरी मिलने में यूपीए सरकार ने ही अड़ंगा लगा दिया, लेकिन वह अपनी लड़ाई आखिर तक जारी रखना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती यूपीए सरकार ने आईपीएल घोटाले में शशि थरूर का मंत्री पद जाने के बाद राजनीतिक बदले की भावना से काम किया. ललित मोदी ने कहा, ‘मैं आलीशान जिंदगी जी रहा हूं और क्यूं न जियूं, मैंने कुछ गलत नहीं किया.’ 

IANS से भी इनपुट