नई दिल्ली. योग दिवस से पहले योग गुरु बाबा रामदेव ने राजधानी दिल्ली में लोगों को योग सिखाया. दिल्ली के जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम में आज सुबह अभ्यास शिविर लगा. रामदेव के योग अभ्यास शिविर में करीब पांच हजार लोग जुटे. रामदेव ने उन्हें कई आसन सिखाए. दिल्ली में आज सुबह हुई बारिश के बावजूद लोगों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया.
  
सुबह 4 बजे से ही स्टेडियम में लोगों के आने का सिलिसिला शुरु हो गया. सुबह दिल्ली में हल्की बारिश भी हुई इसके बावजूद लोगों का आना जारी रहा. बाबा रामदेव द्वारा लगाए गए योग शिविर में सूर्य नमस्कार शामिल नहीं हुआ. सूर्य नमस्कार के योग में शामिल होने को लेकर खासा विवाद रहा है. पहले विश्व योग दिवस पर 21 जून को दिल्ली के राजपथ पर 35 हजार लोग एक साथ योग करेंगे. योग गुरु बाबा रामदेव 21 जून को मनाये जा रहे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी करवा रहे हैं. 
 
स्टेडियम में नोएडा और दिल्ली के सोनिया विहार इलाके से लोग यहाँ पहुंचे. इन सभी का कहना है की यह पिछले कई सालों से योग कर रहे हैं और इसके चलते यह सभी बहुत स्वस्थ है. इनका यह भी कहना था कि बारिश हो या बर्फ पड़े यह सभी योग जरूर करेंगे.
 
योग दिवस पर विवाद दुर्भाग्यपूर्ण – RSS
आरएसएस के मुखपत्र ऑर्गनाइजर में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर चल रहे विवाद को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए लिखा गया है कि विपक्ष की मानसिकता खंडित है. वहीं इसको दारुल ऊलूम द्वारा समर्थन दिये जाने पर सराहना की गई है. मुखपत्र में लिखा गया कि पूरे विश्व में योग को मानव सभ्यता में भारत के योगदान के तौर पर देखा जाता है. जबकि कुछ लोग धार्मिक अर्थ में लाकर विवाद पैदा करना चाहते है.