नई दिल्ली. मैगी पर जारी विवाद और 1984 सिख दंगों जैसे विषय पर अमिताभ बच्चन ने आज इंडिया न्यूज़ के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत से खुलकर बात की. अमिताभ ने सपष्ट कहा कि उन्हें पता है कि एक FIR दायर हुई है और कानूनन जो भी नोटिस आएगा वह उसका जवाब देंगे. 84 दंगों पर अमिताभ ने कहा कि मैंने CBI से कहा था कि टाइटलर मुझे वहां तीनमूर्ति में नहीं दिखे लेकिन असल में ऐसे वक़्त पर कोई किसी को नहीं ढूंढता है और इतने समय बाद तो अब मुझे कुछ भी ढंग से याद भी नहीं. 

अमिताभ ने एक बार फिर कुबूला कि वे भीड़ से अभी भी डरते हैं. उन्होंने कहा कि किसी भी शब्द का क्या अर्थ निकाला जाए उसका डर उन्हें हमेशा बना रहता है. राजनीति में वापिस आने के सवाल पर अमिताभ ने सपष्ट कहा कि मैं कभी राजनीति में जाने के बारे में सोचता भी नहीं हूं..कभी नहीं जाऊंगा. उन्होंने कहा कि राजनीति में अच्छे लोगों को आना चाहिए उसी से देश का भला संभव है. गुजरात और उत्तर प्रदेश के लिए विज्ञापन करने से पैदा हुई कोंट्रोवर्सी पर बोले अमिताभ कि सही काम कर रहे हैं तो हमें निडर रहना चाहिए. 

नमामि गंगे और मिशन क्लीन इंडिया की तारीफ करते हुए अमिताभ बच्चन ने कहा कि ये अच्छी पहल हैं और समाज की अच्छाई के किसी भी काम के लिए मैं फ्री में काम करता हूं और आगे भी इसके लिए तैयार हूं.