पणजी. गोवा के पर्यटन मंत्री दिलीप पारुलेकर ने गुरुवार को सबको चौंकाते हुए सामुहिक दुष्कर्म के पांच आरोपियों को नादान बता दिया. गोवा घूमने गईं दिल्ली की दो पर्यटकों के साथ कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म करने वाले इन आरोपियों को मंत्री ने छोटा-मोटा अपराधी कहा. मंत्री ने हालांकि कहा कि उन्हें इस घटना का अफसोस है. उन्होंने पर्यटकों को आश्वासन देने की कोशिश की कि यह घटना राज्य में एक अपवाद है.

पारुलेकर ने यहां संवाददाताओं को बताया, “वे लड़के नादान हैं और उनके खिलाफ छोटे मोटे आपराधिक मामले दर्ज हैं. इस तरह की घटना भविष्य में दोबारा नहीं होगी.” मंत्री ने कहा, “गोवा में हुई इस घटना का मुझे अफसोस है. महिलाओं के साथ दुष्कर्म में शामिल लड़कों का चरित्र ठीक नहीं है. वे होटल में काम करते हैं और जिन होटलों में उन्होंने काम किया है, वहां उनके खिलाफ चोरी-डकैती के मामले दर्ज हैं.”

पुलिस ने बुधवार को बताया कि गोवा में मंगलवार को पांच युवकों को गिरफ्तार किया गया था, जिन्होंने घूमने आई दो युवतियों के सामने पुलिस होने का नाटक किया, फिर उन्हें अगवा कर उनके साथ मारपीट की और दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. पीड़ित युवतियों ने पुलिस को बताया कि सोमवार रात से मंगलवार तक उनके साथ दुष्कर्म किया गया, जब तक कि पुलिस ने उन्हें नहीं छुड़वाया. युवतियों को ले जा रही टैक्सी के चालक द्वारा शिकायत किए जाने के बाद पुलिस युवतियों को छुड़ाने पहुंची थी. पारुलेकर ने घटना में पुलिस की सक्रियता, तत्काल कार्रवाई और सात से आठ घंटों के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार करने की प्रशंसा की. मंत्री ने कहा, “पर्यटक यह न सोचें कि गोवा में ऐसी घटनाएं आम हैं.

IANS