गया. एग्जिट पोल्स में कहीं महागठबंधन तो कहीं एनडीए की जीत के अनुमान से जहां सारे नेता नर्वस 90 के शिकार होते दिख रहे हैं वहीं एनडीए के सहयोगी पूर्व सीएम जीतनराम मांझी अपने गांव महकार में खेती-बारी देख रहे हैं और परिवार के साथ समय बिता रहे हैं.
 
गया जिले के खीजरसराय प्रखंड का महकार गांव अतरी विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा है. मांझी आखिरी चरण के मतदान के बाद से ही अपने गांव महकार में परिवार के साथ समय बिता रहे हैं. मांझी को जब भी समय मिलता है वो अपने गांव में ही रहते हैं. मांझी ने एग्जिट पोल्स के सारे नतीजे अपने गांव में ही देखे.
 
मांझी के गांव महकार में थाना है, बैंक है, हाई स्कूल है और सरकारी अस्पताल भी है. गांव के लोगों की जरूरत के लिए सामुदायिक भवन भी है. एक गेस्ट हाउस है और हेलीपैड भी. शनिवार को मांझी महकार से गया जाएंगे और दिन भर वहां रुकने के बाद शाम में पटना पहुंच जाएंगे. रविवार को बिहार चुनाव की मतगणना है.
 
खेत देखने के अलावा दोस्तों के साथ बात करके बिताते हैं समय
 
गांव में मांझी अपने खेत-पथार को देखने के अलावा अपने पुराने दोस्तों के साथ दिन भर राजनीति और समाज पर बात करते हैं. शुक्रवार की रात मांझी की छोटी पतोहू रिंकी रानी ने उनके लिए चिकन पकाया.
 
रिंकी ने कहा कि कार्तिक का महीना चल रहा है और आगे छठ भी है इसलिए उनकी सास शांति देवी और वो मांस-मछली नहीं खा रही हैं लेकिन ससुर जी को चिकन बहुत पसंद है इसलिए उनके लिए यही पकाया गया है.