पटना. बिहार विधानसभा चुनाव के पांचवें और अंतिम चरण में 57 विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू हो गया है. यह मतदान बिहार में महागठबंधन और एनडीए के भविष्य को आज तय कर देगा. मतदान में 1.55 करोड़ मतदाता, 58 महिला प्रत्याशियों समेत 827 प्रत्याशियों के राजनीतिक भविष्य का फैसला करेंगे. पांचवें चरण में मधुबनी, सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, मधेपुरा, सहरसा और दरभंगा जिले में वोट डाले जा रहे हैं. 
 
सबसे ज्यादा मंत्री मैदान में
इस दौर में सबसे ज्यादा मंत्री मैदान में हैं. वित्त मंत्री विजेंद्र यादव सुपौल से जेडीयू के टिकट पर मैदान में हैं. आलमनगर से मंत्री नरेंद्र यादव, बलरामपुर से मंत्री दुलालचंद गोस्वामी, रूपौली से मंत्री बीमा भारती, धमदाहा से मंत्री लेसी सिंह जेडीयू की उम्मीदवार हैं. आरजेडी विधायक दल के नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी अलीनगर से मैदान में हैं.
 
बीजेपी के प्रवक्ता विनोद नारायण झा बेनीपट्टी, पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा झंझारपुर से बीजेपी के उम्मीदवार हैं. बीजेपी सांसद हुकुमदेव नारायण यादव के बेटे अशोक यादव केवटी से बीजेपी उम्मीदवार हैं. इस सीट पर मुकाबला आरजेडी के पूर्व सांसद अली अशरफ फातमी के बेटे फराज फातमी से है. माना जा रहा है कि इस दौर के चुनाव में जो जीतेगा वही बिहार पर राज करेगा.
 
 
9 जिलों में ये 18 सीट्स हैं VIP-
सहरसा
1. सिमरी बख्तियारपुर: इस सीट पर जेडीयू ने पूर्व सांसद दिनेश प्रसाद यादव को खड़ा किया है. वे यहां से तीन बार जीत चुके हैं. उनका मुकाबला युसूफ सलाउद्दीन से है.
2. सोनवर्षा: यह सीट एनडीए के साथ रामविलास पासवान के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण है. यहां से रामविलास पासवान की रिश्तेदार सरिता पासवान को एलजेपी ने टिकट दिया है. वहीं, जेडीयू से रत्नेश सदा मैदान में हैं.
3. महिषी: यहां काफी रोचक मुकाबला होना है. आरएलएसपी ने चंदन कुमार ऊर्फ चंदन बागची को महिषी से उम्मीदवार बनाया है. जबकि आरजेडी के मौजूदा विधायक अब्दुल गफूर फिर उम्मीदवार हैं. वे पांचवी जीत के इरादे के साथ मैदान में हैं.
4. सहरसा: बीजेपी के मौजूदा विधायक आलोक रंजन का इस सीट पर आरजेडी के अरुण कुमार यादव के साथ मुकाबला है.
 
सुपौल
5. पीपरा: यह सीट इसलिए चर्चा में है कि यहां से जेडीयू के पूर्व सांसद विश्वमोहन कुमार बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं. वहीं, उनके मुकाबले में आरजेडी ने यदुवंश कुमार को मैदान में उतारा है.
 
6. सुपौल: इस सीट से जेडीयू के कद्दावर नेता विजेंद्र यादव चुनावी मैदान में हैं. यहां से वे 6 बार चुनाव जीत चुके हैं. बीजेपी ने किशोर कुमार को इनके खिलाफ मैदान में उतारा है.
 
मधेपुरा
7. मधेपुरा: इस सीट पर सीधा मुकाबला आरजेडी और बीजेपी के बीच है. आरजेडी ने सिटिंग विधायक चंद्रशेखर को अपना कैंडिडेट बनाया है. वहीं, बीजेपी की तरफ से विजय कुमार विमल मैदान में हैं. यह वीपी मंडल का गृहनगर है, जिन्होंने मंडल आयोग की सिफारिशें दी थीं.
 
 
मधुबनी
8. झंझारपुर: यह सीट वीआईपी सीट है. यहां से बीजेपी के टिकट पर नीतीश मिश्र चुनाव मैदान में हैं. नीतीश मिश्र तीन बार इस क्षेत्र का लगातार प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. बता दें कि नीतीश मिश्र के पिता पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र थे. जेडीयू से इस्तीफा देकर नीतीश मिश्र ने हाल में बीजेपी का दामन थामा है. आरजेडी ने गुलाब यादव को मैदान में उतारा है.
9. हरलाखी: हरलाखी विधानसभा सीट से सीपीआई के रामनरेश पाण्डेय एक बार फिर चुनावी मैदान में हैं. रामनरेश पाण्डेय इस सीट से तीन बार चुनाव जीत चुके हैं. कांग्रेस ने मो. शब्बीर को तो आरएलएसपी ने बसंत कुमार को चुनाव मैदान में उतारा है. 
 
 
अररिया 
10. फारबिसगंज: यह सीट का बीजेपी का गढ़ है. यहां से बीजेपी के मनचन केशरी मैदान में हैं, जिनका मुकाबला आरजेडी के लक्ष्मी मेहता से होगा.
 
 
दरभंगा 
11. अलीनगर: बिहार की राजनीति में खास पहचान रखने वाले अब्दुल बारी सिद्दकी को महाठबंधन ने अपना कैंडिडेट बनाया है. बीजेपी ने पूर्व आरजेडी नेता मिश्रीलाल को मैदान में उतारा है. 
 
किशनगंज
12. कोचाधामन: बिहार इलेक्शन सबसे ज्यादा चर्चित सीट्स में एक कोचाधामन पर सबकी नजरें हैं. इसकी वजह है कि यहां से बिहार में पहली बार इलेक्शन में उतरी ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम मैदान में है. इस सीट पर असल मुकाबला जेडीयू के सिटिंग विधायक अब्दुर रहमान और एआईएमआईएम के कैंडिडेट अख्तरूल ईमान के बीच है. इस सीट पर हिंदू वोटर हार-जीत का निर्णय करेंगे. बीजेपी ने इस सीट पर अब्दुर रहमान को मैदान में उतारा है.
13. ठाकुरगंज: यह सीट अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नौशाद आलम के कारण चर्चा में है. वे महागठबंधन से जेडीयू के कैंडिडेट हैं। उनका मुकाबला एलजेपी के कैंडिडेट और पूर्व विधायक गोपाल अग्रवाल से है. हाल में वे जेडीयू को छोड़ एनडीए में शामिल हुए हैं. 
 
कटिहार 
14. बलरामपुर: इस सीट से जेडीयू के टिकट पर जल संसाधन मंत्री दुलालचंद गोस्वामी चुनावी मैदान में हैं. गोस्वामी का मुकाबला एनडीए के वरुण झा से होगा. गोस्मावी पिछली बार वह निर्दलीय जीते थे.
15. प्राणपुर: इस सीट पर बीजेपी के विनोद सिंह, कांग्रेस के तौकीर आलम और एनसीपी से इशरत परवीन मैदान में हैं. विनोद सिंह पिछली बार एनसीपी की इशरत परवीन से केवल 250 मतों से जीते थे.
16. कदवा: इस सीट से बीजेपी के तारकिशोर प्रसाद मैदान हैं. वह सिटिंग विधायक भी हैं. उधर, जेडीयू ने विजय सिंह को कैंडिडेट बनाया है. वे कटिहार नगर के मेयर भी हैं.
 
 
पूर्णिया 
17. धमदहा: इस सीट पर असल मुकाबला पूर्व मंत्री और जेडीयू कैंडिडेट लेसी सिंह और आरएलएसपी के कैंडिडेट शिवशंकर ठाकुर के बीच है.
18. रूपौली: यह सीट जेडीयू मंत्री बीमा भारती की वजह से हमेशा में चर्चा में रही है. बीमा भारती यहां से सिटिंग विधायक हैं. उनका मुकाबला बीजेपी कैंडिडेट प्रेम प्रकाश मंडल से है.