पटना. बिहार विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान आपत्तिजनक भाषण देने के मामले में चुनाव आयोग ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

चुनाव आयोग का कहना है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ‘पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे’ वाला बयान देकर बिहार में लागू आचार संहिता का उल्लंघन किया है.

वहीं राहुल गांधी को ‘बीजेपी हिंदू-मुसलमान को एक-दूसरे से लड़वाती है’  और लालू को अमित शाह को ‘नरभक्षी’ और ‘पागल आदमी’ कहने पर नोटिस जारी किया है. आयोग ने लालू की उस कथित टिप्पणी का भी उल्लेख किया जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘पिशाच’ कहा था.

आयोग ने कहा कि ‘प्रथम दृष्टया आयोग का विचार है कि इस तरह के बयान, सौहार्द बिगाड़ सकते है और सामाजिक और धार्मिक समुदायों के बीच वर्तमान में मौजूद मतभेदों को गहरा कर सकते है.

चुनाव आयोग ने कहा कि आदर्श आचार संहिता के एक प्रावधान में कहा गया है कि किसी भी पार्टी या उम्मीदवार को ऐसी किसी गतिविधि में लिप्त नहीं होना चाहिए जिससे विभिन्न जातियों, समुदायों या धार्मिक समुदायों के बीच तनाव बढ़े या वर्तमान मतभेद और गहरे हों.

लालू और राहुल को नोटिस जारी करते हुए आयोग ने उन्हें जवाब देने के लिए चार नवंबर दोपहर तीन बजे तक का वक्त दिया है. चुनाव आयोग ने कहा कि ऐसा न होने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.