गोपालगंज. बिहार चुनाव के मद्देनज़र गोपालगंज में एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी महागठबंधन पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने बिहार के चारा घोटाले से लेकर यूपीए सरकार तक के 33 घोटालों की लिस्ट लोगों को सुनाई और कहा महागठबंधन लोगों को सिर्फ भ्रष्टाचार दे सकता है.
 
पीएम मोदी ने कहा कि नीतीश-लालू के शासन में रेलवे, मिड डे मिल, चारा से लेकर किस क्षेत्र में घोटाले नहीं हुए? नीतीश जी पुराने दिनों को वापस लौटाने की मांग करते हैं तो क्या वे फिर से बिहार को बिना बिजली, अपराध के दिनों वाला बिहार देना चाहते हैं?  
 
नीतीश-लालू पर साधा निशाना
 
पीएम मोदी ने नीतीश और लालू पर निशाना साधते हुए कहा कि बड़े भाई-छोटे भाई को बिहार की जनता की परवाह नहीं है. उन्होंने कहा कि लालू ने गोपालगंज को मिनी चंबल बना दिया है. उन्हें राज्य के लोगों की नहीं केवल अपने बेटों की चिंता है.
 
मोदी ने नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि नीतीश गलत लोगों के साथ मिलकर बिहार का अपमान कर रहे हैं. नीतीश ने विकास की उपेक्षा कर युवाओं को बाहरी बना दिया गया. प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के लोग साथ आएं तो यहां से भाई-भतीजवाद और भ्रष्टाचार खत्म करके दिखाऊंगा.
 
आरक्षण को लेकर भी प्रधानमंत्री ने मोर्चा खोला. उन्होंने कहा कि ये नेता दलितों, महादलितों, ओबीसी और ईबीसी के आरक्षण में कटौती कर धर्म के आधार पर देना चाह रहे हैं. बीजेपी उनकी इन कोशिशों को सफल नहीं होने देगी.