पटना. बिहार में स्टिंग ऑपरेशन में पैसे लेते फंसने पर पद गंवा चुके नीतीश सरकार के मंत्री अवधेश कुशवाहा के बाद अब नीतीश की पार्टी जेडीयू के एक और विधायक सत्यदेव कुशवाहा का स्टिंग सामने आया है जिसमें वो सरकार बनने पर मदद की एवज में दो लाख की रिश्वत लेते कैमरे पर कैद हो गए हैं. 
 
 
एक्स फाइल नाम की गुमनाम एजेंसी ने इस बार कुर्था से जेडीयू के विधायक और इस चुनाव में भी उम्मीदवार सत्यदेव कुशवाहा का स्टिंग किया है जिसमें वे पटना स्थित सरकारी आवास में 2 लाख रिश्वत लेते हुए दिखाई दे रहे हैं.
 

स्टिंग करने वालों का दावा है कि उनलोगों ने बिजनेसमैन होने की बात कहकर सत्यदेव कुशवाहा से भविष्य में महागठबंधन की सरकार बनने पर अपनी कंपनी के लिए मदद की बात की. सत्यदेव कुशवाहा सरकार बनने के बाद मदद देने के नाम पर शख्स से एडवांस में 2 लाख रुपये लेते दिख रहे हैं. 
 
कुशवाहा इतने पर ही नहीं रुके. वे स्टिंग में कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि अभी मैंने लिया ही क्या है? मुझे और चाहिए. इसके बाद जब नकली बिजनेसमैन 5-6 लाख देने की बात करता है तो उस पर वो कह रहे हैं कि, हां ठीक है. 
 
स्टिंग ऑपरेशन पर जेडीयू या कुशवाहा की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. लेकिन जाहिर है कि बीजेपी और बाकी विरोधी दल इस स्टिंग पर भी नीतीश कुमार और लालू यादव की अगुवाई वाले महागठबंधन को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगे.