पटना. बिहार में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में आज 32 विधानसभा क्षेत्र के करीब 86.13 लाख मतदाता 456 प्रत्याशियों के राजनीतिक भविष्य के फैसले ले लिए मतदान शुरू हो गया है. दूसरे चरण की 32 में से 23 सीटें नक्सल प्रभावित हैं. इसके अलावा कई हाईप्रोफाइल सीटों पर भी आज वोटिंग जारी है.
 
कई सीटें हैं नक्सल प्रभावित 
शुक्रवार को छह जिलों के 32 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होना है, उनमें 23 विधानसभा क्षेत्रों को नक्सल प्रभावित घोषित किया गया है. सामान्य विधानसभा क्षेत्रों में वोटिंग सुबह 7 बजे से शुरू हो जाएगी और शाम 5 बजे तक वोटिंग चलेंगी. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में वोटिंग दोपहर तीन बजे तक और कुछ स्थानों में शाम चार बजे तक वोटिंग होगी. 
 
छह जिलों के 32 विधानसभा क्षेत्रों में होगी वोटिंग 
बिहार चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग में कैमूर, रोहतास, अरवल, जहानाबाद, औरंगाबाद और गया जिले में मतदान होगा. इस चरण में 86.13 लाख मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे, जिनके लिए 9,119 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. 
इस चरण के चुनाव में एनडीए की ओर से भाजपा के 16, हम के सात, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के छह, लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के तीन उम्मीदवार हैं, जबकि महागठबंधन में राजद और जद (यू) के 13-13 उम्मीदवार हैं तथा कांग्रेस के छह उम्मीदवार हैं.
 
कई हाईप्रोफाइल सीटों पर होगी वोटिंग, मांझी की किस्मत दांव पर 
इस चरण में पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी, विधानसभा अध्यक्ष और जेडीयू नेता उदय नारायण चौधरी, बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रेम सिंह, रामेश्वर चौरसिया और मांझी के पुत्र संतोष कुमार के भविष्य का फैसला वोटर्स करेंगे.