नई दिल्ली. बीफ बैन पर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही. दादरी की घटना के बाद से ही इस पर बयानबाजी जारी है. अब लालू प्रसाद यादव की पार्टी के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघवुंश सिंह ने बीफ को लेकर बड़ा विवादित बयान दिया है. रघुवंश ने कहा है कि बीफ का जिक्र पुराणों में है और ऋषि-मुनि भी बीफ खाया करते थे.
  
चंद दिनों पहले ही लालू यादव ने भी कहा था कि कुछ हिंदू भी गौमांस खाते हैं. इस बयान पर उनकी काफी आलोचना हुई थी. हालांकि बाद में सफाई पेश करते हुए लालू ने कहा था कि उन्होंने हिंदुओं के बारे में ऐसा नहीं कहा है. लालू ने कहा कि वे बीफ की बात कर रहे हैं ना कि गो मांस की बात कर रहे. एबीपी न्यूज से बातचीत में कहा कि उनके बयान का मतलब गौमांस से नहीं था. बाकी चीजें बाहर रहने वाले हिंदू भी खाते हैं.
 
इस मसले पर विवादित बयान देने वालों में सपा नेता आजम खान का नाम भी शामिल है. आजम खान ने तो कहा था कि हिम्मत हो तो बीफ बेचने वाले होटलों को बाबरी मस्जिद जैसा तोड़ दो. अखलाक की मौत से नाराज आजम ने  एक बयान जारी कर गोभक्तों को चुनौती देते हुए कहा कि उनके अंदर अगर हिम्मत है तो वो आज के बाद किसी भी होटल के मेन्यू में बीफ की कीमत ना लिखने दें.