जीरादेई. बिहार चुनाव के मद्देनज़र सभी राजनीतिक पार्टिया जोर-शोर से प्रचार में जुट गई हैं. ऐसे में जनता का मूड क्या है ये जानने के लिए इंडिया न्यूज़ अपने खास शो ‘चुनावी चौराहा’  के अगली कड़ी में पहुंचा है जीरादेई.  

जीरादेई भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की जन्म स्थली है. जीरादेई के लोगों का कहना है कि पिछले 10 सालों में इस इलाके का कोई विकास नहीं हुआ है. इतना ही नहीं इलाके में सड़कों और स्वास्थ्य सेवाओं की हालत लचर है. जीरादेई के किसान भी सिचाई व्यवस्था बदतर होने के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

जीरादेई, सीवान जिले के 8 विधानसभा क्षेत्रों में से एक है. 2010 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी की आशा देवी ने इस सीट पर जीत दर्ज की थी. उन्होंने सीपीआई नेता अमरजीत कुशवाहा को 8920 वोटों से शिकस्त दी थी. महागठबंधन ने इस बार JDU  के रमेश कुशवाहा को टिकट दिया है. इस इलाके में लगभग 2 लाख 32 हजार मतदाता हैं.