पटना. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर एनडीए में सीट बंटवारे पर अभी रूठने-मनाने का सिलसिला थमा नहीं है. बीजेपी ने जीतनराम मांझी को मनाया तो अब राम विलास पासवान और उपेन्द्र कुशवाहा रूठ गए हैं.
 
सूत्रों के अनुसार पासवान और कुशवाहा की नाराजगी कम सीटें मिलने की वजह से है. इनका कहना है कि बीजेपी ने जितनी सीटें देने का वादा किया था, उससे कम सीटें दी हैं. दोनों ने मांझी को ज्यादा सीटें देने का विरोध किया है.
 
आज ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस कर सीट बंटवारे की घोषणा की थी. बिहार की कुल 243 सीटों में 160 पर बीजेपी, 40 सीटों पर रामविलास पासवान की एलजेपी,  उपेंद्र कुशवाहा की आरएसएलपी 23 सीटों पर और जीतन राम मांझी की हिन्दुस्तान आवामी मोर्चा 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. शाह ने कहा था कि मांझी के कुछ उम्मीदवार बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे. 
 
सीट बंटवारे की घोषणा से पहले मांझी भी पासवान से कम सीट पर राजी नहीं थे लेकिन शाह ने मांझी को मना लिया.