पटना. बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की अगुवाई में चुनाव लड़ने की कोशिश में जुटी झारखंड मुक्ति मोर्चा ने मात्र 3 सीटें मिलने पर ही महागठबंधन में आ जाने की बात की है.

बिहार के पड़ोसी राज्य झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा का बढ़िया प्रभाव है और पार्टी बिहार की कुछ सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है. पिछले विधानसभा चुनाव में जेएमएम का एकमात्र विधायक जमुई जिले की चकाई सीट से जीता था.

पार्टी के नेता और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस सिलसिले में शनिवार को आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव और जेडीयू नेता व राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की.

हेमंत सोरेन ने लालू और नीतीश से मुलाकात में अपनी पार्टी के लिए चकाई, तारापुर और जमाललुर सीट मांगी है. चकाई सीट पर जेएमएम पिछली बार जीत दर्ज कर चुकी है. ये तीनों सीटें जमुई और मुंगेर जिले के तहत आती हैं.