नई दिल्ली. बिहार चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर आज दिल्ली में बीजेपी और एनडीए के घटक दलों के बीच अहम बैठक होनेवाली है. बताया जा रहा है कि बिहार में बीजेपी के चुनाव प्रभारी अनंत कुमार आज राम विलास पासवान, जीतन राम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा से अलग अलग मुलाकात करेंगे. वहीं इन नेताओं के बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से भी मिलने की बात कही जा रही है.
 
इस बैठक से पहले खास बात ये रही कि एक दूसरे पर तीखे हमलें करने के बावजूद मंगलवार शाम दोनों नेता रामविलास पासवान और जीतन राम मांझी दोनों एक ही फ्लाइट में अगल-बगल की सीट पर बैठकर दिल्ली पहुंचे. ये इसलिए भी दिलचस्प है क्योंकि पिछले दो दिन से जीतन राम मांझी राम विलास पासवान के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं.
 
मंगलवार को मांझी ने पासवान पर फिर से भाई भतीजावाद का आरोप लगाते साफ कर दिया कि वो 13 से कम सीटों पर मानने वाले नहीं हैं. मांझी ने कहा है कि पासवान को अगर 25 से ज्यादा सीटें लड़ने के लिए मिलती है तो वो भी उनसे ज्यादा सीटों की मांग करेंगे. मांझी और पासवान में ताजा विवाद सोमवार को छिड़ा. सोमवार को पासवान दलित हित के मुद्दों को लेकर राज्यपाल से मिले थे. मांझी ने उसी दिन पासवान पर दलित हित की बजाए भाई भतीजा ज्यादा करने का आरोप लगाया. राम विलास पासवान ने हालांकि इसका जवाब नहीं दिया .
 
जीतन राम मांझी ने कहा कि वो केंद्रीय मंत्री हैं और बड़े लोग झुकते हैं..अगर अड़े रहे तो ठीक करने के लिए हथकंडा आजमाने आता है. जीतनराम मांझी जिस हथकंडे को अपनाने की बात कर रहे हैं इसका खुलासा वो भले ही बाद में करें, लेकिन उनके बयान से इस बात का खुलासा हो गया है कि विधानसभा चुनाव की तारीख के एलान से पहले ही एनडीए में फूट पड़ गई है. सोमवार को जहानाबाद में जीतनराम मांझी रामविलास पासवान पर जमकर भड़के.