नई दिल्ली. बिहार चुनाव को लेकर मंगलवार के दिन चुनाव आयोग में मैराथन मीटिंग हुई. लेकिन मीटिंग के बाद चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ. आशंका जताई जा रही है कि तारीखों का ऐलान आज हो सकता है या अगले दिन शुक्रवार को होगा.
 
इस मीटिंग में चार एजेंडा प्रमुख था
चुनाव आयोग ने सबसे पहले चुनाव के दौरान सुरक्षा व्यवस्था पर चर्चा की. इसके बाद चुनाव कितने चरण में कराए जाएं,  चुनाव की तारीखें क्या होंगी और इन तारीखों का ऐलान कब किया जाए, इस पर विचार-विमर्श हुआ.
 
बिहार चुनाव में सबसे बड़ा पेंच त्योहार को लेकर फंस रहा है. अक्टूबर से लेकर नवंबर तक बिहार में तीन-तीन बड़े त्योहार हैं. दुर्गा पूजा- 22 अक्टूबर को है, दीवाली- 11 नवंबर को और छठ 15 से 18 नवंबर तक है, जबकि 29 नंवबर तक चुनाव संपन्न कराने की संवैधानिक जरूरत भी है. ऐसे में तारीखों को लेकर भारी माथापच्ची चल रही है.