पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने मंगलवार को पटना में अपनी पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा का अध्यक्ष चुने जाने के बाद पार्टी कार्यकारिणी का गठन कर दिया है और अपने बेटे संतोष कुमार सुमन को पार्टी का प्रधान महासचिव नियुक्त किया है.

मांझी ने पार्टी में बिहार से जगदीश शर्मा, गुजरात से विष्णु भाई, हरियाणा से केएस चौहान और बंगाल से साघन तालुकदार को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है. कोषाध्यक्ष पद पर दिल्ली के जयपाल यादव को बिठाया गया है.

पार्टी में 7 महासचिव, 8 सचिव के अलावा करीब दो दर्जन लोग राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य बनाए गए हैं. बिहार से लवली आनंद और पद्माशा झा को भी राष्ट्रीय कार्यसमिति में रखा गया है.

न्यायपालिका में दलित-पिछड़ों को आरक्षण की मांग

पार्टी ने सांगठनिक प्रस्ताव में बाबा साहब आंबेडकर की तर्ज पर सभी वर्गों और गरीबों के स्वाभिमान की लड़ाने लड़ने का संकल्प लिया है तो कॉर्ल मार्क्स की तर्ज पर मजदूरों व वंचितों को एकजुट करने का प्रस्ताव पास किया है.

पार्टी के राजनीतिक प्रस्ताव में बिहार समेत पूरे देश के गरीब और दलितों के हक की लड़ाई लड़ने की घोषणा की गई है. पार्टी ने किसानों की समस्याओं के लिए आंदोलन छेड़ने की भी घोषणा की है.

महिलाओं को बराबरी का दर्जा देने के अलावा न्यायपालिका में दलितों और पिछड़ों को आरक्षण की मांग को लेकर पार्टी ने आंदोलन करने का प्रस्ताव पारित किया है. पार्टी ने प्रोन्नति में आरक्षण को भी एजेंडे पर लिया है.