पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से बिहार को करीब सवा लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा पर राज्य के सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि विशेष सहायता बिहार का अधिकार है, कोई उपकार नहीं. नीतीश ने कहा कि मोदी उन्हें याचक और अहंकारी दोनों कहते हैं जबकि कोई याचक अहंकारी हो ही नहीं सकता.

प्रधानमंत्री मोदी ने आरा की एक सभा में आज कहा था कि केंद्र सरकार बिहार को 125 लाख करोड़ के पैकेज दिए जाएंगे जिसमें पहले से ही मंजूर 40 हजार की परियोजनाओं को जोड़ दें तो कुल 165 लाख करोड़ रुपए बिहार के विकास पर खर्च होंगे.

इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्विट करके कहा है कि विशेष सहायता बिहार का अधिकार है इसलिए ऐसा करके केंद्र सरकार कोई उपकार नहीं कर रही है.

मोदी द्वारा भाषण में यह कहने पर कि नीतीश राज्य को बीमारू नहीं मानते हैं लेकिन कभी ये, कभी वो मांगते रहते हैं, नीतीश ने कहा कि बिहार को विशेष सहायता दिलाने की कोशिश को मोदी जी ने याचना कहा है तो वो बिहार और बिहार की जनता के लिए वो किसी के भी दरवाजे पर बार-बार याचक बनकर जाना पड़े तो मुझे कोई संकोच नहीं है.

शाम में पटना में संवाददाताओं से बात करते हुए नीतीश ने कहा कि एक तरफ मोदी उन्हें याचक कहते हैं और दूसरी तरफ अहंकारी भी कहते हैं. नीतीश ने मोदी से सवाल किया कि एक याचक अहंकारी कैसे हो सकता है.