पटना. बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने उस खबर का खंडन किया जिसमें कहा गया है कि उनकी पत्नी पूनम सिन्हा जेडीयू की टिकट पर चुनाव लड़ सकती हैं. 
हमारे सहयोगी अखबार ‘द संडे गार्जियन’ ने खुलासा किया है कि बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव में ‘बिहारी बाबू’ की पत्नी कायस्थ बहुल इलाके पटना से मैदान में उतरने वाली हैं. खबर है कि वह दीघा या बांकीपुर से चुनाव लड़ सकती हैं. 

आपको बता दें कि मुंबई बम धमाके के दोषी याकूब मेमन की फांसी टलवाने की कोशिशों में पार्टी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के शामिल होने से बीजेपी नेतृत्व खासा खफा है. इस मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली भी कहा था, ‘सिन्हा ने मेमन की दया याचिका पर हस्ताक्षर कर पार्टी को शर्मिंदा किया है. हम इसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे. बीजेपी की आतंकवाद के प्रति नीति मालू होने के बावजूद सिन्हा ने मेमन से संबंधित याचिका पर हस्ताक्षर करने की बड़ी भूल की.’

इससे पहले 25 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुजफ्फरपुर रैली के बाद बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा अचानक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने उनके सरकारी आवास पहुंच गए थे.  मुलाकात के बाद ‘बिहारी बाबू’ ने कहा था कि नीतीश कुमार देश के सबसे बेहतर और जानदार मुख्यमंत्री हैं. शत्रुघ्न ने कहा कि नीतीश ने बिहार का विकास किया है. आपको बता दें कि शत्रुघ्न पटना में पीएम के कार्यक्रम में तो शरीक हुए थे लेकिन मुजफ्फरपुर की चुनावी रैली में नहीं गए थे.

हालांकि, बाद में सिन्हा ने इस मुलाकात को औपचारिक बताया था, लेकिन इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि वह पाला बदल सकते हैं. सिन्हा लंबे समय से वह बीजेपी के स्टार प्रचारकों में रहे हैं. इन दिनों वह बीजेपी के पुराने दिग्गजों की उपेक्षा पर लगातार बोलते रहे हैं.