पटना. बिहार में जन अधिकार पार्टी की ओर से छात्र सिकू राज की मौत के विरोध में शनिवार को बुलाया गया बंद असरदार रहा. इसका बिहार में सबसे ज्यादा असर यातायात और आवागमन पर पड़ा.

बंद समर्थकों ने आरा रेलवे स्टेशन पर आरा-बक्सर पैसेंजर ट्रेन को रोका. जहानाबाद, मधेपुरा और सहरसा के अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग 31 को जाम कर दिया. बंद को लेकर जन अधिकार पार्टी के नेता व सांसद पप्पू यादव ने कहा, ‘बिहार सरकार छात्रों के अरमानों को कुचल रही है. यहां नौकरी मांगने वालों को मौत दी जा रही है.’ इस बंद को पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा का भी समर्थन मिला.

क्या है मामला?

गया जिले के कोच थाना क्षेत्र के अंतर्गत मुरेरा गांव निवासी स्नातक का छात्र सिकू राज गुरुवार को सीमा सुरक्षा बल की परीक्षा देने किशनगंज गया था, जहां पुलिस की कथित रूप से पिटाई में वह गंभीर रूप से घायल हो गया था और पटना के अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी.