पटना. बिहार विधानसभा चुनाव में सीएम नीतीश कुमार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राह पर चल पड़े हैं. दरअसल पिछले लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के ‘चाय पर चर्चा’ की तर्ज पर जद (यू) ने  ‘पर्चे पर चर्चा’ कार्यक्रम की शुरुआत की है. इस कार्यक्रम के तहत पार्टी ने 24 जून से 30 जून तक राज्य के 35 हजार से ज्यादा गांवों में संपर्क साधने की योजना बनाई है.

जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने पटना के चीनाकोठी से इस कार्यक्रम की शुरुआत की और कहा कि राज्य में कानून का राज है. उन्होंने केन्द्र सरकार पर बिहार के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया और कहा कि राज्य के विकास के लिए केन्द्र सकार का सहयोग आवश्यक है.

‘पर्चे पर चर्चा’ कार्यक्रम के विषय में कहा कि करीब एक घंटे के इस आयोजन में चौपाल पर पार्टी कार्यकर्ताओं के हाथ में पर्चा होगा, जिस पर नीतीश सरकार की उपलब्धियां अंकित होंगी. एक दिन में करीब 5,340 गांवों तक तथा सात दिनों में 35 हजार गांवों तक पहुंचने की योजना है.