नई दिल्ली. भारतीय ज्योतिष में ग्रहणों का बहुत महत्व है क्योंकि उनका सीधा प्रभाव मानव जीवन पर देखा जाता है. जब घूमते-घूमते चन्द्रमा, सूरज व पृथ्वी एक ही सीध में होते हैं तब इस कारण चन्द्रमा की छाया पृथ्वी पर पड़ती है तो इसे सूर्यग्रहण कहते हैं.
 
ऐसा अक्सर अमावस्या के दिन होता है. इंडिया न्यूज शो भारत पर्व में आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा बताते हैं कि जब चंद्रमा के पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है तब उसके गुरुत्वाकर्षण का सबसे अधिक प्रभाव इस पर पड़ता है. इसी कारण पूर्णिमा के दिन समुद्र में सबसे अधिक ज्वार आते हैं.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: