नई दिल्ली.  ऐसा माना जाता है कि ज्योतिष के माध्यम से शुभ कार्य की शुरुआत करने का ज्ञान ही लिया जाता है लेकिन ज्योतिष चमत्कार नहीं विज्ञान है.
 
ज्योतिष के दो हिस्से है, एक जो व्यक्ति के जीवन की चक्र को बताता है दूसरा ज्योतिष खगोलीय विज्ञान का भी विशलेषण  करता है. ज्योतिष  भविष्य के साथ-साथ वर्तमान और भूतकाल का भी ज्ञान देता है. 
 
एक भ्रांति यह भी है कि  ग्रह हमारे जीवन में सब क्रियेट करते है बता दें कि ये सुख दुख नहीं बनाते बल्कि प्रभाव बताते है. जैसे अगर संतान होनी है तो वह सूचना होती है न कि वे निर्धारित करतें हैं.
 
इंडिया न्यूज़ के खास शो ‘भारत पर्व’ में अध्यातमिक गुरू पवन सिन्हा आपको ग्रहों के गुण  के साथ साथ भविष्य को प्रभावित करने वाले कारणों  के बारे में  बताएंगे .  साथ ही गुरू जी आपको बताएंगे ज्योतिषी का महत्व क्या है ?