नई दिल्ली. वैशाख महीने में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया या आखा तीज कहते हैं. इस तिथि पर किए गए किसी भी शुभ काम का फल कई गुना ज्यादा मिलता है और कभी न खत्म होने वाला होता है.
 
वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीय तिथि को मनाई जाने वाली अक्षय तृतीय बेहद लाभकारी है. सतयुग और त्रेता युग की सूर्य और चंद्रमा का संबंध बनने की वजह से ये तिथि बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है. अक्षय तृतीया का क्या महत्व बताएंगे अध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा इंडिया न्यूज के शो भारत पर्व में
 
वीडियो में देखे पूरा शो