नई दिल्ली. भगवान गणेश शिवजी और पार्वती के छोटे पुत्र हैं और उनका वाहन मूषक है. गणों के स्वामी होने के कारण उनका एक नाम गणपति भी है. हिंदू परंपराओं के मुताबिक किसी भी शुभ कार्य से पहले भगवान गणेश की पूजा की जाती है.
 
भगवान गणेश के कई अवतार हैं जिनमें से एक है महोत्कट विनायक. इन्हें कृत युग में कश्यप व अदिति ने जन्म दिया. इस अवतार में गणपति ने देवतान्तक व नरान्तक नामक राक्षसों का संहार कर धर्म की स्थापना की व अपने अवतार की समाप्ति की. 
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘भारत पर्व’ में आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा आज आपको कि क्यों भगवान गणेश को हाथी का सिर लगाया गया. साथ ही उनकी पूजा कैसी की जाए यह भी पवन सिन्हा बताएंगे.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो