नई दिल्ली. भगवान हनुमान जब माता सीता की खोज में लंका गए थे. तब उन्हें रास्ते में एक विमान दिखा था. विमान काफी विशाल था. रावण ने कुबेर को पराजित करने के बाद उनसे भगवान विश्वकर्मा द्वारा बनाए पुष्पक विमान को छीनकर उसपर अधिकार कर लिया. यह विमान बिना ईंधन के चालक की इच्छा के अनुसार धीमी और तीव्र गति से उड़ सकता था.
 
आज पुष्पक विमान के बारे में आपको बताएंगे आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा इंडिया न्यूज़ के खास कार्यक्रम भारत पर्व में.