नई दिल्ली. प्रकृति स्वयं को विभिन्‍न रंगों में अभिव्यक्‍त करती है और व्यक्‍ति प्रकृति के इन्हीं रंगों के माध्यम से अपनी संवेदनाओं, भावनाओं, एवं पसंद को अभिव्यक्‍त करता है. रंग अपनी ओजस्विता एवं प्रकाश द्वारा मानव मस्तिष्क एवं शरीर को प्रभावित करते हैं. सफेद – यह रंग पवित्रता, शुद्धता, शांति, विद्या, नीति एवं सभ्यता का प्रतीक है.

सफेद रंग के प्रयोग से मन की चंचलता समाप्त होती है. लाल – लाल रंग ऊर्जा, स्फूर्ति शक्‍ति महत्त्वाकांक्षा, उत्तेजना, क्रोध, पराक्रम, बल व उत्साह का द्योतक है. यह रंग अनुकूल परिणाम, सफलता, संघर्षों से जूझने व खतरों से खेलने में अदम्य साहस प्रदान करता है.

काला -सभी रंगों के सम्मिश्रण से तैयार काला रंग रंगों की सत्ता को नकारता है तथा विमुखता को व्यक्‍त करता है. यह रंग बदला, घृणा तथा द्वन्द्व की ओर संकेत करता है बाकि के रंग आपके जीवन में क्या असर डालते हैं आपको बताएंगे अध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा इंडिया न्यूज़ के खास कार्यक्रम भारतपर्व में.