नई दिल्ली. तनोट माता मंदिर भी भारत-पाक 1965-1971 के युद्धों के बाद विख्यात हो गया. माता के चमत्कार के चलते पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा फैंके गए बम फटे नहीं और भारतीय सेना को तनोट में ही जीवित पड़े मिले.
 
सेना ने कुछ बमों को आज भी मंदिर में प्रदर्शित कर रखा है जो माता के चमत्कार की गवाही देते हैं. भारत पाक सीमा पर बना ये मंदिर सेना और सीमा सुरक्षा बल में आस्था का सबसे बड़ा केंद्र है. कहते भारत पाक युद्ध के समय पाकिस्तान ने इस जगह तकरीबन तीन हजार बम गिराए मगर उनमे से एक भी बम नहीं फटा और माता की कृपा से भारत को जीत मिली.
 
आज भी इस मंदीर में सीमा सुरक्षा बल के जवान मंगल आरती करते हैं, पूजा करते हैं और मंदिर का पूरा जिम्मा सीमा सुरक्षाबल के हाथों में ही है. देखिए इंडिया न्यूज शो भारत पर्व में पवन सिन्हा के साथ.
 
वीडियो में देखे पूरा शो