नई दिल्ली. किंजल सिंह आज एक आईएएस अफसर जरूर हैं लेकिन इसके लिए उन्होंने बहुत संघर्ष किया है. वह भावुक होकर कहती है, ‘जब हम दोनों बहनों का एक साथ आइएएस में चयन हुआ तो उस खुशी को बांटने के लिए न तो हमारे पिता थे और न ही हमारी मां…’
 
किंजल सिंह वही हैं जिनके पिता, केपी सिंह की उनके ही महकमे के लोगों ने कथित तौर पर 30 साल पहले हत्या कर दी थी. इसी मामले में पिछले हफ्ते उत्तर प्रदेश में एक विशेष अदालत ने केपी सिंह की हत्या करने के आरोप में तीन पुलिसवालों को फांसी की सजा सुनाई है. इसी बीच उनकी मां दुनिया छोड़कर चल बसीं. उन्हें कैंसर हो गया था.जब किंजल के पिता की हत्या हुई थी उस वक्त वो गोंडा जिले में पुलिस उपाधीक्षक के पद पर तैनात थे. मार्च 1982 में गोंडा जिले के माधोपुर गांव में उनकी हत्या कर दी गई थी.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: