नई दिल्ली. भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने स्विटजरलैंड की अपनी जोड़ीदार मार्टिना हिंगिस के साथ विम्बलडन महिला डबल्स का खिताब जीत कर नई उपलब्धि हासिल की है. सानिया मिर्जा के लिए यह ग्रैंड स्लैम में पहला वुमेन्स डबल्स खिताब है, हालांकि वह तीन बार मिक्स्ड डबल्स जीत चुकी हैं. इंडिया न्यूज़ के विशेष कार्यक्रम ‘बेटियां’ में आज हम लेकर आएं हैं सानिया मिर्जा की कहानी.

आपको बता दें कि मुंबई में जन्मी और हैदराबाद में पली-बढ़ी सानिया मिर्ज़ा बचपन से एक पत्रकार बनना चाहती थीं, लेकिन उनके पिता ने जल्द ही उनमें टेनिस का हुनर देखा और और उनके पहले कोच बन गए. बस फ़िर क्या था, पेन की जगह हाथ में टेनिस रैकेट आ गया. सानिया ने अपने करियर की शुरुआत 2003 में की. 2004 में उन्हें अर्जुन पुरस्कार और 2006 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था.

2006 में उन्हें ऑस्ट्रेलियन ओपन में 32वीं वरियता प्राप्त थी. ये पहला मौक़ा था, जब किसी भी भारतीय महिला खिलाड़ी को किसी ग्रैंड स्लैम ओपन में कोई वरीयता मिली थी। 2007 में सानिया मिर्ज़ा की रैंकिंग 27 तक पहुंच गई थी. भारत के लिए खेलना हमेशा सानिया का जुनून रहा है. उन्होंने 2002, 2006, 2010 और 2014 एशियन गेम्स में भारत का नेतृत्व किया और 2 गोल्ड, 3 सिल्वर और 3 कांस्य पदक जीते हैं.

2005 में अमेरिका की मशहूर TIME मैगज़ीन ने उन्हें 50 Heros of Asia की सूची में शामिल किया था. विवादों के साथ सानिया मिर्ज़ा का चोली-दामन का साथ रहा है. टेनिस में छोटी स्कर्ट पहनने को लेकर उन पर फ़तवा भी जारी हो चुका है. इतना ही नहीं, लिएंडर पेस और महेश भूपति के बीच तनाव को लेकर सानिया ने कहा कि उन्हें पेस के साथ खेलने पर मजबूर किया जा रहा है, जबकि वो भूपति के साथ खेलना चाहती थीं.

2009 में उन्होंने अपने बचपन के दोस्त सोहराब मिर्ज़ा के साथ सगाई की थी, लेकिन कुछ ही महीनों में ये सगाई टूट गई और जल्द ही सानिया पाकिस्तान के कप्तान शोएब मलिक को अपना दिल दे बैठीं. विवादों के बीच सानिया मिर्ज़ा और शोएब मलिक का निकाह हुआ. इस विवाह के बारे में इतनी उत्सुकता थी कि साल 2010 में तमाम महिला टेनिस खिलाड़ियों में सानिया गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च की गईं. मार्टिना हिंगिस के साथ महिला डबल्स में विम्बलडन का खिताब जीतने से पहले सानिया तीन मिक्स्ड डबल्स के खिताब भी अपने नाम कर चुकी हैं. ये हैं – 2009 में ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2012 में फ़्रेंच ओपन और 2014 में US ओपन. इस समय सानिया मिर्ज़ा दुनिया की नंबर 1 महिला डबल्स खिलाड़ी हैं.

एजेंसी इनपुट भी