नई दिल्ली. जो उम्मीद की चाह रखते हों और दिल में जज्बा, तो मंजिले खुद ब खुद कदम चूमतीं हैं. ऐसी ही सोच रखने वाली हैं आईपीएस से आईएएस बनीं गरिमा सिंह. इन्होंने 29 साल की उम्र में अपना आईएएस बनने का सपना पूरा कर लिया.
 
उनके इस सपने को पूरा करने के लिए उनके माता-पिता और पति राहुल ने उनका समय-समय पर मनोबल और उत्साह बढ़ाया. आईएएस बनने के बाद उनका पहला सपना होगा विकास और आर्थिक रुप से कमजोर लोगों की मदद करना है.
 
गरिमा सिंह ने दिल्ली यूनिवसिर्टी से की पढ़ाई
दिल्ली यूनिवसिर्टी से की पढ़ाई उत्तर प्रदेश के बलिया की रहने वाली गरिमा सिंह है. उनके माता पिता नोएडा में रहते हैं और बड़ी बहन मुम्बई में जॉब करती है. पिता ओमकारनाथ गुड़गांव की एक कम्पनी में इंजीनियर हैं.उन्होंने दिल्ली यूनिवसिर्टी से बीए और एमए की पढ़ाई की है.उनके पति राहुल राय नोएडा में एक कंपनी में इंजीनियर हैं.
 
वीडियो पर क्लिक कर देखे पूरा शो