नई दिल्ली. त्यौहारों के मौसम में जब घर पर पकवान बनते हैं तो रसोई से उठने वाली महक से पूरा मोहल्ला जान जाता है कि आपके घर में क्या बन रहा है. लेकिन इस दीवाली घर-घर की रसोई से आने वाली छन्न की आवाज सुनने को शायद कान तरस जाएं क्योंकि इस बार सरसों की तेल की कीमतें बढ़ गई हैं.
 
जी हां. अब सरसों के तेल पर भी महंगाई का बुखार चढ़ गया है. 80-90 रुपए प्रति लीटर मिलने वाला सरसों तेल एक हफ्ते के अंदर 150 से 160 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया है. अब पकवान तो भूल जाइए, दीवाली पर दीए जलाने के लाले भी लाले पड़ जाएंगे. दाल और प्याज तो पहले से ही आम आदमी को रुला रहे हैं और तेल ने भी बाकी कसर पूरी कर दी.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: