नई दिल्ली.आरएसएस और बीजेपी की समन्वय बैठक की तीसरे और आखिरी दिन संघ ने साफ कर दिया है कि वह अपने एजेंडे पर कायम है. आरएसएस की ओर से साफ कहा गया है कि आर्टिकल 370, अयोध्या में राम मंदिर और यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर उसकी नीति वही है जो पहले थी.
 
इस बैठक में शामिल होने के लिए पीएम मोदी भी पहुंच चुके हैं. पीएम के सामने संघ नेताओं ने बैठक का ब्यौरा पेश किया. तीन दिनों की इस बैठक में सरकार के कामकाज, सामने आने वाली चुनौतियों, शिक्षा व्यवस्था और राष्ट्रीय सुरक्षा जैसे मसलों पर संघ के तमाम सहयोगी संगठनों के बीच चर्चा हुई लेकिन बैठक खत्म होने से ठीक पहले संघ का अपना एजेंडा दोहराना अब बीच बहस में है. सवाल यही है कि सरकार और संघ की इस बैठक का मतलब क्या है ? 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरी बहस: