नई दिल्ली. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी लड़ाई को एक पायदान और ऊपर पहुंचा दिया है. दिल्ली सचिवालय बिल्डिंग के बाहर होर्डिंग-पोस्टर लगा दिए गए हैं जिसमें प्रधानमंत्री को संबोधित करते हुए कहा गया है कि,, प्लीज काम करने दीजिए. ये शायद पहला मौका होगा, जब किसी मुख्यमंत्री ने देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ इस तरह से सीधी जंग छेड़ी हो. 

दिल्ली में हर नियुक्ति, हर फैसले को लेकर केजरीवाल सीधे LG और केंद्र सरकार पर हमला बोल देते हैं. ताजा विवाद दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष को लेकर खड़ा हुआ है. सवाल उठता है कि आखिर केजरीवाल क्यों खुद को तमाम संवैधानिक प्रावधानों से ऊपर समझते हैं और क्यों वो चाहते हैं कि उनके लिए तमाम नियम कायदे बदल दिए जाएं ? बड़ा सवाल ये भी है कि रोज रोज की इस लड़ाई से आखिर दिल्ली की जनता क्या भला होने वाला है ?