नई दिल्ली. दिल्ली में एक लड़की की सबके सामने हत्या कर दी जाती है. घर वाले इंसाफ की मांग करते हैं. लेकिन, लड़की की मौत पर सियासत शुरु हो जाती है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली पुलिस को जिम्मेदार ठहराते हैं. बीजेपी दिल्ली पुलिस को बचाने वाला बयान देती है. प्रदर्शन- नारेबाजी के बीच मुद्दा पीछे छूट जाता है और सियासी सवाल सामने खड़े हो जाते हैं. 

आज बीच बहस में यही मुद्दा है कि क्या दिल्ली में कानून व्यवस्था और हत्या पर सिर्फ सियासत होगी ? क्या दिल्ली पुलिस को दिल्ली सरकार के अधीन कर देना चाहिए ? (पूरी बहस सुनने के लिए वीडियो पर क्लिक करें)