नई दिल्ली. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को पार्टी के पुराने बागी फिर याद आने लगे हैं. एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में केजरीवाल ने योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को पार्टी में वापसी का न्यौता दिया है, लेकिन केजरीवाल के इस न्यौते ने प्रशांत और योगेंद्र को तिलमिला दिया है. आप के दोनों पुराने नेताओँ ने केजरीवाल को कपटी और बेशर्म तक कह दिया. 

सवाल उठता है कि दूध की मक्खी की तरह दोनों को पार्टी से बाहर निकाल फेंकने वाले केजरीवाल को अचानक से दोनों की याद क्यों आने लगी ? दिल्ली के बाद पार्टी के दूसरे सबसे मजबूत गढ़ पंजाब में सेंध लग चुकी है. पंजाब से आने वाले पार्टी के कुल 4 सांसदों में से तीन ने केजरीवाल के खिलाफ बिगुल फूंक रखा है. तो क्या केजरीवाल, पुराने बागियों के सहारे नए बागियों को ठिकाने लगाने की रणनीति खेल रहे हैं ? (पूरी बहस सुनने के लिए वीडियो पर क्लिक करें)