नई दिल्ली. दिल्ली में बजट का काम पूरा हुआ, तो उप राज्यपाल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच जारी जंग का दूसरा दौर शुरू हो चुका है. इस बार एंटी करप्शन ब्यूरो के दो बड़े अफसर आमने-सामने हैं. ज्वाइंट कमिश्नर मुकेश कुमार मीणा को उप राज्यपाल ने तैनात किया है, तो वहीं केजरीवाल की मर्जी से एसीबी के चीफ बने एडिशनल कमिश्नर एस एस यादव खुद को मीणा के मातहत मानने को तैयार नहीं हैं.

एसीबी पर कब्जे को लेकर दोनों की जंग अब बंद कमरों से बाहर आ चुकी है. एसीपी यादव अपने सीनियर अफसर मीणा पर आरोप लगा रहे हैं कि उनकी वजह से एसीबी के अफसरों और कर्मचारियों की जान खतरे में है. अब ये सवाल बीच बहस में है कि क्या दिल्ली के बड़े अफसर भी अब केजरीवाल और उप राज्यपाल के खेमों में बंट गए हैं ?

 

v