नई दिल्ली. एक साल के कार्यकाल में पहली बार ऐसा हुआ है जब मोदी सरकार अपने एक मंत्री को लेकर चौतरफा निशाने पर है. पूर्व आईपीएल कमिश्नर और कानून के भगोड़े ललित मोदी की मदद करने पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कठघरे में हैं. हालांकि संघ, सरकार और पार्टी तीनों ने सुषमा को पाक साफ मान लिया है. लेकिन, विपक्ष भी इस मामले पर पीछे हटने को राजी नहीं है. कांग्रेस ने सुषमा को हटाने की मांग की है. 

ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि क्या अपने विदेश मंत्री को बचाने के लिए मोदी सरकार कुछ भी कर सकती है ? क्या एक भगोड़े अपराधी की मदद करनेवाले मंत्री को यूं ही बख्श दिया जाएगा ?