नई दिल्ली. स्वच्छ दिल्ली साफ दिल्ली अब कूड़ा दिल्ली बनती जा रही है. एमसीडी कर्मचारी पिछले कई दिनों से वेतन की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं और इस पूरे मामले पर सियासतदां टोपी ट्रांसफर का खेल खेल रहे हैं. दिल्ली सरकार केंद्र को जिम्मेदार ठहरा रही है, तो बीजेपी दिल्ली सरकार को कसूरवार बता रही है.  गंदगी पर गंदी सियासत में अब कांग्रेस के राहुल गांधी भी कूद पड़े हैं और वो दोनों सरकारों पर ठीकरा फोड़ रहे हैं. 

ऐसे में बीच बहस का ये बड़ा सवाल है कि दिल्ली की सेहत की कीमत पर राजनीति क्यों हो रही है ? देश की राजधानी को कूड़ेदान बनाने का जिम्मेदार कौन है ?