नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाचार एजेंसी यूएनआई को दिए ताजा इंटरव्यू में पहली बार कहा है कि पिछले एक साल में महंगाई काबू में आई है और देश के अच्छे दिन आ गए है. लेकिन, कड़वा सच ये है कि आज के ही दिन से जनता पर महंगाई की सबसे बड़ी मार भी पड़ी है. मोदी सरकार ने एक जून से जनता के शौक और जरूरतों दोनों पर महंगाई की कैंची चला दी है. 

12.36 फीसदी से 14 फीसदी सर्विस टैक्स को बढ़ाने का एलान बजट में हुआ था और 1 जून से ये लागू हो गया.  मतलब हॉल में मूवी देखना हो, मोबाइल बिल हो, रेल-हवाई सफर या फिर प्रॉपर्टी खरीदना, सब महंगा हो जाएगा. ऐसे में बीच बहस का ये बड़ा सवाल है कि फिर मोदी सरकार ने चुनाव के वक्त ये नारा क्यों दिया था- बहुत हुई महंगाई की मार अबकी बार मोदी सरकार ? और क्या अब महंगाई कभी कम नहीं होगी ?