नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में एक महीने पहले जिस हत्याकांड का पर्दाफाश हो चुका है उस पर अब आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच सियासी रस्साकशी चल रही है. एनडीएमसी के लॉ ऑफिसर एमएम खान की हत्या के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद महेश गिरि आमने-सामने हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
महेश गिरि दो दिन से केजरीवाल के घर के पास अनशन पर बैठे हैं और उनके समर्थन में सुब्रमण्यम स्वामी से लेकर मनोज तिवारी तक ने केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. दरअसल केजरीवाल का आरोप है कि एमएम खान की हत्या के आरोपी होटल मालिक रमेश कक्कड़ और महेश गिरि के बीच रिश्ते हैं और इस रिश्ते के तार एमएम खान की हत्या से भी जुड़े हैं. 
 
दिल्ली पुलिस ने ‘द कनॉट होटल’ के मालिक रमेश कक्कड़ को एमएम खान की हत्या कराने के आरोप में गिरफ्तार किया है. केजरीवाल का आरोप है कि रमेश कक्कड़ ने हत्या से पहले एमएम खान को एनडीएमसी से हटवाने के लिए एलजी को चिट्ठी लिखी थी और वो चिट्ठी महेश गिरि ने एलजी तक पहुंचाई थी. 
 
stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
गिरि ने इस पर केजरीवाल को चुनौती दी है कि वो या तो सबूत पेश करें या फिर माफी मांगें. क्योंकि मामला दिल्ली में हुई हत्या का है और केजरीवाल पिछले कई साल से मांग कर रहे हैं कि दिल्ली पुलिस को उनकी सरकार के हवाले किया जाए. सवाल है कि केजरीवाल के निशाने पर महेश गिरि हैं या दिल्ली पुलिस.  इंडिया न्यूज के खास शो ‘बीच बहस में’ पेश है इस मुद्दे पर चर्चा. 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो