नई दिल्ली. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना इलाके में सैंकड़ों लोग अपना घर बार छोड़कर दूसरी जगहों पर जिंदगी बसर करने निकल पड़े हैं. वजह है, गुंडागर्दी और रंगदारी. हालात ऐसे बन गए हैं मानो यहां पर कोई समानांतर सरकार चल रही हो. गुंडों से निपटने वाला कोई नहीं है न ही पलायन कर रहे लोगों को कोई इंसाफ दिलाने वाला.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जिसे अपनी जान की परवाह है वो अपना डेरा समेटकर भाग रहा है. इलाके से बीजेपी सांसद हुकुम सिंह ने एक लिस्ट जारी की है, इसमें कैराना के 346 लोगों के नाम हैं. सांसद का दावा है कि ये सभी लोग बीते कुछ दिनों में अपने घर छोड़कर कैराना से बाहर जा चुके हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
कैराना गांव में जो लोग अभी तक भागे नहीं हैं, वो भी गुंडागर्दी और रंगदारी की बात की तस्दीक कर रहे हैं. लेकिन प्रशासन मानने को तैयार नहीं है कि गुंडों के खौफ से कैराना के लोग पलायान कर रहे हैं इंडिया न्यूज के खास शो ‘बीच बहस में‘ इसी अहम मुद्दे पर पेश है चर्चा.