नई दिल्ली. कुछ दंबंगों की स्कूटी पर बैठ जाने की हिमाकत करने पर एक नाबालिग को ऐसी बेरहम सजा दी है. हादसा इतना दर्दनाक है कि देखने वाले की रूह कांप जाए. नाबालिग के कपड़े उतार कर उसे डंडे से पीटा गया, सरे बाजार उसका जुलूस निकाला गया, और दरिंदगी की हद पार करते हुए नाबालिग के प्राइवेट पार्ट्स में नमक-मिर्च डाली गई.
 
दूसरी तरफ 13 साल की एक मंदबुद्धि लड़की के साथ रेप किया गया और मरणासन्न हालत में उसे रेल की पटरियों पर फेंक दिया गया. पीड़ित बच्ची एम्स में भर्ती है और उसके शरीर पर गंभीर जख्म हैं. कानून व्यवस्था के ऐसे हाल देखकर सवाल उठना लाजमी है कि क्या दिल्ली में दंबंगों और दरिंदों जेहन से पुलिस का खौफ खत्म हो गया है?
 
हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने बेहद सख्त टिप्पणी की है कि दिल्ली में जंगलराज जैसे हालात हो गए हैं तो देश की राजधानी में इस जंगलराज का जिम्मेदार आखिर कौन है? इंडिया न्यूज के खास शो ‘बीच बहस’ में पेश है इसी मुद्दे पर चर्चा.
 
 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो