नई दिल्ली. पानी की बूंद-बूंद को तरसते लातूर को आज राहत की पहली खेप मिली. 5 लाख लीटर पानी लेकर एक ट्रेन लातूर पहुंची लेकिन हकीकत में ये मदद ऊंट के मुंह में जीरे के बराबर भी नहीं है. लातूर में पानी के सारे संसाधन खत्म हो चुके हैं.
 
सांगली के मिरज से पानी लेकर 10 बोगियों वाली ये ट्रेन लातूर स्टेशन पहुंची. स्टेशन के पास बने कुएं में ही बोगियां खाली की गईं और यहां से टैंकरों के जरिए ये पानी लोगों तक पहुंचाया जाएगा. 
 
इस बीच मदद के लिए जरा सा हाथ बढ़ा नहीं कि क्रेडिट लेने की होड़ भी शुरू हो गई. पानी लाने वाली ट्रेन पर लातूर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने अपने बैनर टांग दिए. ऐसे में ये बड़ा सवाल है कि ट्रेन के जरिए लोगों की प्यास कब तक बुझा पाएगी सरकार ?
 
बीच बहस में आज एक और सवाल अहम है, वो ये कि क्या लातूर के जलसंकट पर राजनीति शुरू हो गई है ? इंडिया न्यूज के खास शो ‘बीच बहस में’ इसी अहम मुद्दे पर पेश है चर्चा.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो