नई दिल्ली. मुंबई की मशहूर हाजी अली दरगाह में महिलाओं पर रोक टोक जारी रहेगी या खत्म होगी इस पर मंगलवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में अहम सुनवाई हुई.
 
अदालत में दरगाह ट्र्स्ट ने पाबंदी को लेकर अपनी दलीलें रखीं तो वहीं राज्य सरकार ने साफ कह दिया कि वो पाबंदी के हक में नहीं है. कोर्ट दो हफ्ते बाद इस मामले पर अपना फैसला सुनाएगा लेकिन सवाल उठता है कि महिलाएं अपनी बराबरी की जंग कहां-कहां लड़ें.
 
कभी शनि शिंगणापुर, तो कभी सबरीमला, तो कभी हाजी अली और भी ना जाने कहां कहां? महिलाओं को उनके कमतर होने का लगातार एहसास कराया जा रहा है.
 
हिंदू या मुसलमानों के किसी भी धर्मग्रंथ में महिलाओं पर ऐसी पाबंदी को लेकर कुछ भी नहीं मिलता लेकिन धर्मगुरु ऐसी रोक टोक को जायज ठहराने पर तुले हैं.
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘बीच बहस में’ आज इसी अहम मुद्दे पर होगी चर्चा.
 
 
वीडियो क्लिक कर देखिए पूरा शो