नई दिल्ली. फरवरी का महीना शुरू नहीं हुआ कि नैतिकता के स्वयंभू ठेकेदारों को वैलेंटाइन डे का बुखार चढ़ना शुरू हो गया है. जिन्हें लगता है कि वैलेंटाइन डे मनाने भर से भारतीय संस्कृति खतरे में पड़ जाएगी, वो लोगों को वैलेंटाइन डे ना मनाने की नसीहत देने में जुटे हैं.

ऐसे ही लोगों में से एक हैं बलात्कार के दो-दो मामलों में आरोपी आसाराम. खुद आसाराम तो जेल में हैं, लेकिन बाहर उनके चेले पोस्टर लगाकर चेतावनी दे रहे हैं कि वैलेंटाइन डे मत मनाना, वरना पुलिस पीटेगी.

पोस्टर की भाषा और डिजाइन ऐसी है कि साधु-संत भी आसाराम के फरमान को तालिबानी बता रहे हैं. फिलहाल यही सवाल बीच बहस में है कि क्या अब बलात्कार के आरोपी नैतिकता की ठेकेदारी करेंगे  ?

वीडियो में देखें पूरा शो