नई दिल्ली. दिल्ली में एमसीडी कर्मचारियों की हड़ताल का आज चौथा दिन है. अभी तक ना तो दिल्ली सरकार ने हड़ताली कर्मचारियों से बातचीत की, ना ही दिल्ली की सड़कों से कूड़ा हटा. करीब सवा लाख कर्मचारियों को बीते तीन महीने से वेतन नहीं मिला है, कैसे मिलेगा ये भी पता नहीं. जो हो रहा है वो बस सियासत है, एमसीडी की दुर्दशा पर धुआंधार सियासत.

आज बीजेपी सड़कों पर उतर आई और हड़ताल के लिए दिल्ली सरकार को दोषी ठहराया, तो दूसरी ओर केजरीवाल सरकार शुरू से इस मसले पर नगर निगमों और केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा कर रही है. लड़ाई में आज कांग्रेस भी कूद पड़ी और एमसीडी की कंगाली के लिए केजरीवाल और केंद्र की बीजेपी सरकार, दोनों को जिम्मेदार ठहरा दिया.

दिल्ली का आम आदमी और एमसीडी के कर्मचारी अभी तक ये नहीं समझ पा रहे हैं कि मौजूदा हालात का जिम्मेदार असल में कौन है ?

वीडियो में देखें पूरा शो