नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में ऑड-ईवन फॉर्मूला का अगला दौर कब, कैसे और कितने दिन लागू हो, इस पर केजरीवाल सरकार ने रायशुमारी शुरू कर दी है. केजरीवाल सरकार लोगों से जो सवाल पूछ रही है, उन्हीं सवालों पर इंडिया न्यूज़ ने दिल्ली के लोगों के बीच सर्वे किया.

प्रदूषण ज़रूरी या ऑड-ईवन ?

दिल्ली में 1 से 15 जनवरी तक केजरीवाल सरकार ने ऑड ईवन फॉर्मूला लागू किया था. इसका मकसद दिल्ली में प्रदूषण को कम करना था. 15 दिन में प्रदूषण कितना कम हुआ, इससे ज्यादा चर्चा ऑड-ईवन स्कीम की ही होती रही. खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी इसी बात का प्रचार करते रहे कि ऑड-ईवन स्कीम क्या है. स्कीम क्यों लागू की गई, इसकी चर्चा हाशिए पर चली गई.

एक बार फिर ऑड-ईवन !

अब एक बार फिर दिल्ली सरकार ऑड-ईवन स्कीम लाने को तैयार है. अखबारों और रेडियो में विज्ञापन देकर केजरीवाल सरकार दिल्ली वालों से पूछ रही है कि ऑड-ईवन लागू किया जाए या नहीं. और अगर लागू किया जाए तो कैसे? कुल मिलाकर 5 सवाल हैं. लोगों से 8 फरवरी तक अपनी राय देने को कहा गया है.

केजरीवाल के सवाल, इंडिया न्यूज़ का सर्वे

केजरीवाल सरकार के इन्ही सवालों पर इंडिया न्यूज ने एक सर्वे किया है, ताकि और ऑड-ईवन को लेकर दिल्ली का मूड भांपने की कोशिश की है कि क्या दिल्ली में ऑड-ईवन फॉर्मूला फिर शुरू होना चाहिए ?

इंडिया न्यूज़ ने बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव आर पी सिंह, आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज और पर्यावरण विशेषज्ञ विमल भाई के साथ इस सवाल पर भी चर्चा की कि क्या ऑड-ईवन से दिल्ली में प्रदूषण कम होगा ?

वीडियो में देखिए दिल्ली में ऑड-ईवन सर्वे के नतीजे